Home / Health / गर्मियों में खाने-पीने की लापरवाही से हो सकता है स्टमक फ्लू

गर्मियों में खाने-पीने की लापरवाही से हो सकता है स्टमक फ्लू

img__235_orig

गर्मियों में खाना अक्सर संदूषित हो जाता है और ऐसा खाना खाने से प्राय: आंत्रशोथ या गैस्ट्रोएन्टराइटिस हो जाता है। इससे प्रभावित व्यक्ति को अतिसार यानी डायरिया हो सकता है। इसे आम बोलचाल की भाषा में स्टमक फ्लू भी कहते हैं। गैस्ट्रोएन्टराइटिस वायरस के संक्रमण से होता है। नोरोवायरस, रोटावायरस, एस्ट्रोवायरस आदि वायरस अक्सर संदूषित भोजन या पीने के पानी में पाए जाते हैं। यह वायरस खाने या पानी के साथ शरीर में प्रविष्ट हो जाते हैं और चार से 48 घंटे में अपना संक्रमण फैलाते हैं। गैस्ट्रोएन्टराइटिस का सर्वाधिक खतरा बच्चों, बुजुर्गों और कमजोर प्रतिरोधक तंत्र वाले लोगों को होता है। गैस्ट्रोएन्टराइटिस संक्रमण से होने वाली बीमारी है और इससे प्रभावित व्यक्ति के बर्तन, कपड़े, सामान आदि का इस्तेमाल करने वाले को भी संक्रमण होने की आशंका होती है।

पानी और तरल पदार्थों का सेवन

गैस्ट्रोएन्टराइटिस से बचने के लिए अधिक से अधिक मात्रा में पानी और तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए। लेकिन इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि इनमें किसी तरह का संदूषण न हो। गैस्ट्रोएन्टराइटिस होने पर सेब का जूस, सोडा या कोला आदि के उपयोग से बचना चाहिए, क्योंकि इनमें चीनी की अत्यधिक मात्रा होने की वजह से अतिसार पीड़ित की तबीयत और बिगड़ सकती है। चीनी उन लवणों और खनिजों की जगह नहीं ले सकती जिनकी शरीर में कमी हो जाती है। शादियों के खाने के दौरान हॉट फूड खाएं। शादियों में सलाद न खाएं। 15 गिलास पानी पिएं। बाहर का खाना न खाएं। लंच व डीनर जल्दी करें।

गैस्ट्रोइन्टराइटिस के प्रमुख लक्षण

पेट में दर्द, अतिसार, जी मिचलाना, उल्टी होना, तेज ठंड लगना, त्वचा में हल्की जलन होना, बहुत पसीना आना, बुखार, जोड़ों में कड़ापन, मांसपेशियों में तकलीफ, भूख न लगना, वजन कम होना आदि गैस्ट्रोइन्टराइटिस के प्रमुख लक्षण हैं।अतिसार या उल्टी होने पर शरीर में लवण और खनिज पदार्थों की कमी हो जाती है। ऐसे में लवण और खनिज पदार्थों का अतिरिक्त मात्रा में सेवन जरूरी हो जाता है।

खाली पेट धूप में निकलने से गैस्ट्रोएन्टराइटिस होने का खतरा

तेज गर्मी के दिनों में घर से बाहर निकलने से पहले कुछ खा लेना चाहिए। खाली पेट धूप में निकलने से गैस्ट्रोएन्टराइटिस होने का खतरा होता है। साथ ही यह भी ध्यान रहे कि गर्मियों में ताजे खाने का ही सेवन किया जाए। गर्मी की वजह से अक्सर खाना जल्दी संदूषित होता है, इसलिए यह देख लेना चाहिए कि पहले से रखा खाना खाने योग्य है या नहीं। कहीं वह संदूषित तो नहीं हो गया है।

 

loading...

Check Also

इन तरीकों को अपनाने से बढ़ेगा तेजी से वजन

कई लोगों के लिए मोटापा समस्या होता है तो कुछ के लिए दुबला होना। कुछ ...

Leave a Reply