Home / Health / दिल की धड़कन करेगी सेहत का खुलासा

दिल की धड़कन करेगी सेहत का खुलासा

Heart-Beat

दिल की धड़कन के आधार पर भी सेहत का पता लगाया जा सकता है। जैसे एक−दो धड़कनें तेज होने के बाद एक धड़कन छूटती सी महसूस होती है जिसकी वजह से एक अजीब सा एहसास होता है। यह दिल की बीमारी का संकेत हो सकता है। एक्सरसाइज करना हेल्थ के लिए बेनिफिशियल होता है, लेकिन जरूरत से ज्यादा करने से दिल की धड़कनों पर असर भी पड़ सकता है। अपनी क्षमता से ज्यादा मेहनत करने पर भी ऐसा हो सकता है। ज्यादा चिंता और उत्तेजना की वजह से भी दिल नॉर्मल ढंग से नहीं धड़क पाता है। तंबाकू, पान मसाला, गुटका आदि का सेवन, ज्यादा तनाव, चिंता, गुस्सा, नींद न आना जैसी परेशानियों के असर से भी दिल की धड़कनें सामान्य तरीके से नहीं चल सकती हैं। शरीर में न्यूट्रिशन्स की कमी और खून की कमी भी धड़कनों को तेज या धीमा कर सकती है।

वसा अधिक होना

मांस और डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे मक्खन, चीज में वसा अधिक पाया जाता है। पकाए गए बिस्कुट या केक में भी कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा होती है। इनसे बॉडी में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा में तेजी से इजाफा हो जाता है। इससे हॉर्ट भी अनहेल्दी हो जाता है।

शरीर में सोडियम की मात्रा सही अनुपात में बनाए रखने के लिए भोजन में नमक की कुछ मात्रा होना जरूरी है। ज्यादा नमक हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट डिसीज का कारण बन सकता है। हेल्दी हार्ट के लिए जरूरी है कि रोज भोजन में पांच प्रोटीनयुक्त पदार्थ, फल और सब्जियां हों। विटामिन और प्रोटीनयुक्त डाइट एलडीएल को कम करने में सहायक तथा कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकती है।

तनावग्रस्त रहना हेल्दी होने का मार्ग नहीं है। सोचिए जैसे कि आप ज्यादा चीजों को एकसाथ नहीं संभाल पाते हैं वैसी ही सिचुएशन आपके हृदय के साथ भी हो सकती है। रोज का बहुत ज्यादा टेंशन ब्लड प्रेशर बढ़ाने के साथ हार्ट को भी प्रभावित करता है।

loading...

Check Also

इन तरीकों को अपनाने से बढ़ेगा तेजी से वजन

कई लोगों के लिए मोटापा समस्या होता है तो कुछ के लिए दुबला होना। कुछ ...

Leave a Reply