Home / Business / अमेरिकी कंपनी ब्लैकस्टोन 7 करोड़ में खरीदेगी भारतीय कंपनी एमफेसिस

अमेरिकी कंपनी ब्लैकस्टोन 7 करोड़ में खरीदेगी भारतीय कंपनी एमफेसिस

it__________wi840he560mocropbgwhite

अमेरिकी कंपनी ब्लैकस्टोन भारत की आईटी कंपनी एमफेसिस को खरीदेगी। एमफेसिस में हेवलेट पैकार्ड (एचपी) की 60.5% हिस्सेदारी है। ब्लैकस्टोन ने इसी को खरीदने का फैसला किया है। अधिग्रहण कानून के मुताबिक ब्लैकस्टोन को दूसरे शेयरहोल्डर्स से अतिरिक्त 26% इक्विटी खरीदने के लिए ओपन ऑफर लाना होगा। एचपी से यह हर शेयर 430 रुपए के भाव पर खरीदेगी। ओपन ऑफर के लिए इसने 457.50 रुपए प्रति शेयर का रेट तय किया है। इस तरह पूरी डील के लिए इसे 5,466 करोड़ से 7,071 करोड़ रुपए तक देने पड़ेंगे। इस तरह यह देश की सबसे बड़ी प्राइवेट इक्विटी डील होगी। एचपी ने कहा है कि 2016 की दूसरी छमाही में डील पूरी हो जाएगी।

देश की पांचवीं सबसे बड़ी आईटी कंपनी टेक महिंद्रा और वैश्विक पीई फर्म अपोलो ग्लोबल ने भी एमफेसिस को खरीदने में रुचि दिखाई थी। ओपन ऑफर के बावजूद एमफेसिस में ब्लैकस्टोन की होल्डिंग 75% से ज्यादा नहीं हो सकती। वर्ना इसे डीलिस्ट करना पड़ेगा। इसलिए अगर ओपन ऑफर में 26% होल्डिंग वाले शेयरधारक बेचने को तैयार होते हैं तो कंपनी एचपी की होल्डिंग का सिर्फ 84% हिस्सा खरीदेगी। यह एमफेसिस के कुल शेयर के 50% से कुछ ज्यादा होगा। पांच साल पहले एचपी के कुल बिजनेस में एमफेसिस का हिस्सा 65% हुआ करता था। साल 2014-15 में यह 34% रह गया।

ब्लैकस्टोन इंडिया के सीनियर एमडी अमित दीक्षित ने बताया कि ब्लैकस्टोन ने एक दशक में भारत में पीई और रियल्टी में 6 अरब डॉलर (करीब 40 हजार करोड़ रु) का निवेश किया है। कंपनी हर निवेश पांच से सात साल के लिए करती है। आईटी सेक्टर को लेकर उसका नजरिया काफी सकारात्मक है। इससे पहले आईबीएस सॉफ्टवेयर और इंटेलनेट में भी निवेश कर चुकी है। दीक्षित ने एमफेसिस की मौजूदा मैनेजमेंट टीम को इसकी सबसे बड़ी शक्ति बताया। यानी मैनेजमेंट को फिलहाल नहीं बदला जाएगा। एमफेसिस के क्लायंट में बैंकिंग और फाइनेंस के अलावा बीमा कंपनियां भी हैं। दीक्षित के मुताबिक एमफेसिस आगे चलकर छोटी आईटी कंपनियां खरीद सकती है।

loading...

Check Also

एक्सपोर्ट में हो रही गिरावट के खिलाफ निर्माल सितारमन का नया प्लान

एक्सपोर्ट में हो रही गिरावट को रोकने के लिए केंद्रीय वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमन ने मंगलवार ...

Leave a Reply